Motivational Story In Hindi कोई भी धंधा छोटा नहीं होता के बेहतरीन उदाहरण क्या है?

Motivational Story In Hindi
Motivational Story In Hindi

दोस्तों सभी लोग सोचते हैं फ़िल्म एक प्रकार का सिर्फ लोगों के लिये मनोरंजन हैं लेकिन ऐसा हर बार बिल्कुल नहीं होता है कुछ फिल्में ऐसे भी होते हैं, जो हमारे दिल के जहन में कुछ ऐसा गहरा असर छोड़ जाते हैं और उस फ़िल्म का डायलॉग हमारी जीवन के अहम हिस्सा होते हैं ऐसे ही एक फ़िल्म का डायलॉग लोग आज तक नहीं भूल पाएं हैं कोई धंधा छोटा या बड़ा नहीं होता और धंधे से बड़ा कोई धर्म नहीं होता Motivational Story In Hindi

आज हम कोई धंधा छोटा या बड़ा नहीं शाहरुख खान द्वारा बोले गए फेमस डायलॉग का बेहतर असली उदाहरण बतलाने वाले हैं जो असल जिंदगी में कुछ लोग उतारा है

Motivational Story In Hindi कोई धंधा छोटा नहीं होता है

Real Success Story-1 मोची वाली कहानी

मुंबई में एक श्याम नाम का लड़का हैं जो मोची का काम करता है वह अपने दुकान में एक पोस्टर लगा के रखा है जिसमें लिखा हुआ है कोई धंधा छोटा नहीं होता है और धंधे से बड़ा कोई धर्म नहीं

श्याम का कहना है कि मेरे पिताजी भी एक मोची थे जो एक फैक्ट्री में काम करते हैं मैं अपने काम को बढ़ाने के लिए मुंबई आ गया हूं मुंबई में इस काम की बारीकी सीखी और मैं अपना काम पूरी निष्ठा से करता हूं

इन्होंने इस काम को जिंदगी जीने का ढंग भी बना लिया असल जिंदगी में यह बड़ा उदाहरण छिपा हुआ है खासकर उन लोगों के लिए जिन्हें अपना काम छोटा लगता है

Business Motivational Story In Hindi

MBA Finance से Restaurant खोला MBA Finance Story-2

विशाल एक MBA Finance (एमबीए फाइनेंस) में नोकरी करता हैं विशाल मेरा बचपन का दोस्त हैं विशाल और हम एक साथ पढ़ाई करते थे पढ़ाई खत्म करने के बाद सिर्फ़ उसकी शादी में मिले थे उसके बाद हम लोग नहीं मिले

काम काज से फुर्सत ही नहीं मिला की हम दोनों दोस्त पढ़ाई खत्म होने के बाद मिल सकें, एक दिन की बात है मेरे एक दोस्त की बेटी के शादी में विशाल से फिर मुलाकात हो गयी।

इतने दिनों के बाद दोस्त से मुलाकात हुई हैं तो बहुत सारी बातें चली बातों-बातों में हम ने उस्से पूछ लिया अभी तुम्हारी काम काज कैसा चल रहा हैं विशाल उस सवाल का जवाब हिचकिचाहट हो कर दिया ठीक ही चल रहीं हैं

फिर उनसे और भी बातें होने लगीं वो बातें में नहीं बतला सकते हैं फिर कुछ समय बाद उसने हमसे पूछा यार हमें भी तुमारी तरह वीडियोग्राफी (Videography) करना चाहते हैं में भी तुम्हारे तरह ख़ुश रहना चाहता हूँ हमें भी फोटोग्राफी सीखा दो

मैंने पूछा क्यों तुम तो एक MBA freelancer हो वैसे ठीक हैं तुम मेरे दोस्त हो में तुम्हें फोटोग्राफी सिखला दूँगा जरूर

अगर आप भी फोटोग्राफी करना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पढ़े- Photography Business In Hindi

पर तुम फोटोग्राफी में ख़ुश नहीं रहोगे, विशाल बोला क्यों तुम तो बहुत खुश हो फिर मैं क्यों नहीं रह पाऊँगा मैं कर लूंगा तुम सिखला दो बस।

मैंने कहा तब ठीक हैं कल से तुम करेला खाना शुरू कर दो उसने बोला क्यों अरे मैं करेले खाकर बहुत खुश रहता हूँ अगर तुम्हें हमारे जैसा बनना है तो हमारे जैसा करना भी होगा।

विशाल बोलता है हमें करेला पसंद नहीं है। तब मैंने उसे समझाया इंसान को वही करना चाहिए जिसमें उसका इच्छुक( Interested) हो, वही काम जो वह हमेशा से करना चाहता हो, अपने दिल की आवाज को सुनो और उससे पूछो आखिर वह करना क्या चाहता है

विशाल बोलता है अरे यह सब बातें कहने में अच्छा लगता है, करने में नहीं। हमारे दिल से कोई आवाज नहीं होती
अगर तुम्हें दिल की आवाज सुनाई नहीं देती है तो हम तुम्हें बताते हैं कि कैसे पता चलेगा तुम्हारे लिए कौन सा कम अच्छा है

हमने विशाल से कहा ऐसा कौन सा काम है जो तुम दिन के 24 घंटे में 12 घंटे कर सकते हो, 12 घंटे काम करने के बाद भी तुम्हें कोई थकावट महसूस नहीं होता हो, और उस काम करने में तुम्हारा दिल लगा रहे चाहे उसमें तुम्हें पैसे मिले अथवा ना मिले

तब विशाल बोलता है हां एक काम ऐसा है जो हम 12 घंटे कर सकते हैं तो हमने पूछा क्या टेस्टी और मजेदार खाने को खाना

यह बात सुनकर हमें बहुत हंसी आई और हमने उससे कहा यह तो तुम्हें देखकर पता चलता है इतने मोटे हो गए हो तुम यार यह बात नहीं भी बताते तो हमें पता चल जाता तुम्हें खाने पीने की कितनी शौक है।

तो वह बोलता है मेरी पूरी बात सुनो तो खाने को खाना ही पसंद नहीं है बल्कि हमें खाने बनाने का भी बहुत शौक है जो हम 24 घंटे में 12 घंटे भी कर सकते हैं हमें बहुत मजा आएगा बस अब हमें पता चल गया हम एक नया और बड़ा खाने की दुकान (Restaurant) खोलेंगे

हमने पूछा खाने की दुकान (Restaurant) खोलने के लिए तुम्हारे पास पैसे कहां से आएंगे उसमें कम से कम 10 से 15 लाख रुपए लगेंगे क्या तुम्हारे पास इतने पैसे इस बिज़नेस में निवेश (इन्वेस्ट) करने के लिए है?

विशाल बोलता है मेरे पास 4 से 5 लाख हैं और 2 लाख पापा से ले लेंगे कुल मिलाकर 7 लाख हो जाएंगे मैंने कहा इतने में तो Restaurant नहीं खुल पाएगा

मैं एक रास्ता बताता हूं 2-3 लाख में भी अच्छा धंधा कर सकते हो और 2 लाख तुम्हें बच भी जाएंगे और पापा से भी मांगना नहीं पड़ेगा तुम शुरुआत के समय किसी अच्छी जगह या सिनेमा घर के बाहर किसी ट्रॉली पर (On a Trolley) अपना धंधा शुरू कर सकते हो।

यह बात उसे पसंद नहीं आई और यह बात सोचने लगा कहां मैं MBA freelancer हूं और लोग मेरे बारे में क्या-क्या सोचेंगे ठेले पर अपना धंधा नहीं यह मैं नहीं कर सकता

तब हमने अपने बारे में उसे कुछ याद दिलाया जब तुम्हारी शादी थी तुमने हमसे कहा था दोस्त वैसे तो हम फोटोग्राफर रख लिए हैं लेकिन तुम भी आ जाना अपने कैमरा को लेकर और पीछे से फोटो खींचता रहना

तभी मैं तुम्हारे जैसा सोचता तो आज मैं यहां नहीं होता इस मुकाम तक नहीं पहुंचता ये नहीं सोचा कि लोग क्या कहेंगे और हमारे बारे में क्या सोचेंगे लोगों की बातों का परवाह किए बिना तुम्हारे शादी में मैं गया और फोटो भी खींचा

कोई धंधा छोटा नहीं होता और धंधे से बड़ा कोई धर्म नहीं होता यह बात बोलते ही उसका दिमाग खुल गया और वह ठेले पर अपना धंधा शुरू करने के लिए सोच लिया।

विशाल के द्वारा बनाई गई व्यंजन इतना प्रसिद्ध (Famous) हुआ, और लोगों को पसंद आया। ठेला पर दुकान खोलने के कुछ ही दिनों के बाद करीब 4 साल बाद आज वह एक कॉफी शॉप और साथ ही 2 खाने की दुकान restaurant खोल लिए हैं उसके साथ 40 से भी ज्यादा बेरोजगार को नौकरी भी दे रहा है

यह सब उसके मेहनत का नतीजा है और उसे खाने बनाने का शौकीन था इसमें उसका इंटरेस्ट था तभी वह आज इतने आगे चले गए

तब दोस्तों आपको यह सच्ची कहानी motivational story in Hindi कैसा लगा आप हमें अपनी प्रतिक्रिया नीचे दे सकते हैं अगर आपको ऐसे ही मोटिवेशनल कहानियां( motivational story) पसंद है तो आप हमें बता सकते हैं हम आपके लिए और भी सच्ची और मजेदार कहानी लेकर आएंगे

निष्कर्षण:-

आज हमने इस पोस्ट में कोई भी धंधा छोटा नहीं होता और धंधे से बड़ा कोई धर्म नहीं होता। शाहरुख खान के द्वारा बोली गयी डायलॉग पर हम दो Motivational Story In Hindi बतलायें हैं इस पोस्ट से हमें यह सीखने को मिला हमें आपने दिल की आवाज़ को सुन कर जो भी कम करते हैं वो काम हमेशा लाभकारी सिद्ध होता है और हमें उस मुकाम तक पहुंचाता है, जहां हम जाना चाहते हैं। पोस्ट अच्छी लगे हो तो लाइक जरूर कर दे और अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद वंदे मातरम

1 टिप्पणी

कोई सवाल या जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें